Skip to main content

कैसे होता है आप के साथ आनलाईन फ्राड




       कैसे होता है आप के साथ आनलाईन फ्राड


आपने कभी सोचा है आपने जो मोबाइल नम्बर अपनी बैंक मे दिया है वह नम्बर फ्राड करने वाले के पास कैसे चला जाता है । आपने कौन सा नम्बर किस बैंक मे दिया है यह तो सिर्फ आप जानते हो या फिर बैंक फिर फ्राड करने वाले के पास आपका नम्बर कैसे पहुंच जाता है ? इसका मतलब या तो आप देते हो या बैंक । अब आप बोलोगे मै भला अपना नम्बर क्यु दूंगा फ्राड करने वाले को । तो क्या बैंक वाले देते है आपका नम्बर ?

अब अगर मै कहू कि दोनो ही इसके लिये जिम्मेदार है तो गलत ना होगा अगर फ्राड करने वाला बैंक की साइट हैक करके आपका नं निकाल लेता है तो इसमे तो आपका कोई जोर नही । लेकिन बैंक की साईट को हैक करना इतना आसान नही होता छोटे हैकरो के बस का यह काम नही होता । यह कम ही होता है ।
 तो आप सोच रहे होगे कि इसका मतलब मै ये कहना चाहती हु कि आप ही अपना नम्बर खुद देते है । तो आपका यह सोचना गलत नही है आप ही अपना नम्बर हैकर को देते है बल्कि नम्बर ही नही और भी बहुत कुछ् आप दे देते हो । हा ये बात अलग है कि आप यह सब अन्जाने मे करते है । आप सोच रहे होगें कैसे ? चलिये आपको डिटेल मे समझाता हु ।


जब आप कोई गेम या अप्लीकेशन अपने अन्ड्रोइड मोबाइल मे इन्स्टाल करते हो तो  आपके सामने एक परमिशन विन्डो खुलती है । जिस पर आपने सायद कभी ध्यान ही न दिया हो |





फोटो मे देखने के बाद आपको पता चल रहा है यहां पर जितनी भी चीज के लिये परमिशन मांगी गयी है । इसका मतलब यह है यह अप्लीकेशन जब चाहे उस चीज का इस्तेमाल कर सकता है ।

चलिये अब आते है आपका नम्बर फ्राड के पास कैसे जाता है ? अब मान लो आपने एक साफ्टवेयर इन्स्टाल किया है जो कि फ्राड करने वालो का है और आपने उसे अपना मैसेज रीड करने की परमिशन दे रखा है । इसका मतलब यह है कि आपने किसी को अपना मोबाईल दे दिया है और उसे कहा है कि आप मेरे मैसेज पढ सकते हो अब फ्राड करने वाला अपके सारे मैसेज पढेगा और साथ ही आपके बैंक से जो मैसेज आया है जिसमे आपका बैलेन्स कितना है...... वगैरा वगैरा

 मतलब आप समझ गये ना यह तो सिर्फ मैसेज की बात हुई आप एक सोफ्ट्वेयर को अपना कोन्टक्ट लिस्ट रीड करने की पर्मिशन देते हो जिससे ओ आपके दोस्तो और रिश्तेदारो का भी नम्बर उन्हे मिल जाता है ।

अपनी सेफ्टी के लिये आप अपने स्मार्टफोन के सेटिंग >> सेक्युरिटी सेटिंग मे जाकर अप परमिशन को आन कर दे ।



app  परमिशन सेटिंग वह सेटिंग है जिसे ओन करने के बाद बिना आपकी परमिशन के कोइ भी अप्लीकेशन आप के किसी भी जानकारी का इस्तेमाल नहा कर पाता है । इसे आन करने आप की निजी जानकारी को चोरी होने से रोका जा सकता है

और किसी भी app को ऐसी परमिशन न दे जिसका उसे कोई काम ही नही जैसे मान लो कोई कैलक्यूलेटर app है और वह आपके msg और फोनबुक read करने की परमिशन माँग रहा है तो इतना तो आप को भी समझना होगा कि कैलक्यूलेटर को मेरा msg और फोनबुक read करने की क्या आवश्यकता है ।

किसी भी फोन पर अपनी पर्सनल जानकारी न दे । जैसे आपके atm का पिन . आपके atm का cvv कोड ।इन उपायो से आप ऑनलाइन फ्राड से अपने आप को बचा सकते है

Comments

Popular posts from this blog

youtube-success-secrete-hindi/

इस बुक मे मैने बताया है कि कैसे मैने अपने youtube channel "yadu entertainment"
को सफल बनाया अगर आप एक सफल youtuber बनना चाहते है तो यह बुक आपके लिये है
इस बुक मे मैने बताया है कि कैसे आप अपना चैनल वायरल करोगे । हर youtuber की  लाइफ मे के वायरल वीडियो तो होना ही चाहिये जब तक आपका एक वीडियो वायरल नही होगा तब तक न तो आपको ब्युज ही मिलते है और न ही सब्सक्राइबर ऐसा नही है कि आप इस बुक को नही खरीदोगे तो कभी सफल नही हो सकते एक न एक दिन तो आपको समझ आ ही जायेगा कैसे सबकुछ होता है ।
लेकिन अगर आप जल्दी सफल होना चाहते हो बिना समय बर्बाद किये तो यह बुक आपके लिये है ।
नीचे लिंक पर जाकर आप बुक खरीद सकते है  |
Click To View

कलम और तलवार , हिंदी निबंध

कलम और तलवार के साधारण अर्थ से सभी परिचित हिं, लेकिन वास्तव में ये दोनों दो महान शक्तियों के प्रतिक हैं. कलम बुद्धिबल की सूचक है और विचारक्रांति की समर्थक है जब कि तलवार बाहुबल को सूचित करती है और हिंसक क्रांति की प्रतिक है.

आज की दुनिया में तलवार या भौतिक बल का बहुत महत्त्व है. आज जिनके पास अधिक बल है, वे कमजोर लोगों पर अत्याचार कर रहे हैं. तोपों और बमों की आवाज से सारा संसार भयभीत हिया. इस परिस्थिति का मुकाबला करने के लिए तलवार अर्थात बाहुबल या भौतिक शक्ति की आवश्यकता पड़ती है. वास्तव में आज संस्कृति और स्वदेश की रक्षा के लिए भौतिक शक्ति का सहारा अनिवार्य हो गया है.

फिर भी तलवार से - भौतिक शक्ति से - संसार का सदा कल्याण नहीं हो सकता. तलवार ने ही हरे-भरे नगरों को सुनसान खंडहरों में बदल दिया है; रक्त की नदियाँ बहाई हैं. भय, द्वेष और कुशंका ने लोगों के दिलों में तूफान खड़ा कर दिया है. तलवार ने मासूम बच्चों और बेसहारा औरतों पर अनगिनत अत्याचार किए हैं, सभ्यता और संस्कृति की धाराओं को उलट दिया है. मनुष्य को पशु बना दिया है.

दुनिया में ज्ञान का जो अपार भंडार सुरक्षित रह सका है, वह कलम के चमत्का…