Skip to main content

Delivery के समय कितना दर्द होता है ? Labor pain during delivery

प्रसव पीड़ा यानि labor pain को लेकर महिलाओं में काफी डर बना रहता है कि delivery के दौरान कितना दर्द सहना पड़ेगा ? अगर आप पहली बार माँ बनने जा रहीं है तो आपके दिमाग में भी ये सवाल जरूर उठते होंगे. आज हम इसी विषय में आपको बताएंगे कि delivery की दौरान यानि कि बच्चा पैदा होने के दौरान कितना और कब-कब दर्द होता है. तो आइये जानते हैं ..

कभी भी आपको अचानक से तेज व असहनीय दर्द नहीं होगा. दर्द हमेशा धीरे-धीरे आगे बढ़ता है, इसलिए चिंता ना करें क्योंकि आपको काफी समय मिलता है hospital जाने के लिए.

जब दर्द शुरू होता है, उस समय हलके से तेज contraction feel होंगे. इस दौरान आपका cervix करीब 3 से 4 centimeter तक खुल जाता है. ये contraction आपको 40 से 60 second तक महसूस होते हैं और करीब 5 से 10 minute का बिच-बिच में break होता है.

अगर आप पहली बार माँ बनने जा रहीं हैं तो ये process 4 से 6 घंटे तक चलती है.

इसके बाद labor pain अगली stage में पहुँचता है. इस समय आपको contraction ज्यादा तेज और कम interval में महसूस होंगे. इस दौरान आपका cervix करीब 7 centimeter तक खुल जाता है.

इसके बाद तीसरे stage शुरू होती है और दर्द अपने चरम सीमा पर होती है. Cervix 10 centimeter तक खुल जाता है और यह दर्द करीब १ घंटे तक चलता है.

चौथे stage पर आपको अंदर से ही बहुत जोर लगाने का मन करेगा , यह सब दर्द के अधिकतम सीमा पर पहुचने के कारण होगा. इस दौरान कभी भी शिशु का सर बाहर की तरफ दिखने लगेगा और vagina से जुड़ी muscles starch होने लगेंगी.

शिशु जन्म के बाद placenta बाहर निकलता है और आपको हल्का दर्द फिर होगा.

Comments

Popular posts from this blog

youtube-success-secrete-hindi/

इस बुक मे मैने बताया है कि कैसे मैने अपने youtube channel "yadu entertainment"
को सफल बनाया अगर आप एक सफल youtuber बनना चाहते है तो यह बुक आपके लिये है
इस बुक मे मैने बताया है कि कैसे आप अपना चैनल वायरल करोगे । हर youtuber की  लाइफ मे के वायरल वीडियो तो होना ही चाहिये जब तक आपका एक वीडियो वायरल नही होगा तब तक न तो आपको ब्युज ही मिलते है और न ही सब्सक्राइबर ऐसा नही है कि आप इस बुक को नही खरीदोगे तो कभी सफल नही हो सकते एक न एक दिन तो आपको समझ आ ही जायेगा कैसे सबकुछ होता है ।
लेकिन अगर आप जल्दी सफल होना चाहते हो बिना समय बर्बाद किये तो यह बुक आपके लिये है ।
नीचे लिंक पर जाकर आप बुक खरीद सकते है  |
Click To View

कैसे होता है आप के साथ आनलाईन फ्राड

कैसे होता है आप के साथ आनलाईन फ्राड


आपने कभी सोचा है आपने जो मोबाइल नम्बर अपनी बैंक मे दिया है वह नम्बर फ्राड करने वाले के पास कैसे चला जाता है । आपने कौन सा नम्बर किस बैंक मे दिया है यह तो सिर्फ आप जानते हो या फिर बैंक फिर फ्राड करने वाले के पास आपका नम्बर कैसे पहुंच जाता है ? इसका मतलब या तो आप देते हो या बैंक । अब आप बोलोगे मै भला अपना नम्बर क्यु दूंगा फ्राड करने वाले को । तो क्या बैंक वाले देते है आपका नम्बर ?

अब अगर मै कहू कि दोनो ही इसके लिये जिम्मेदार है तो गलत ना होगा अगर फ्राड करने वाला बैंक की साइट हैक करके आपका नं निकाल लेता है तो इसमे तो आपका कोई जोर नही । लेकिन बैंक की साईट को हैक करना इतना आसान नही होता छोटे हैकरो के बस का यह काम नही होता । यह कम ही होता है ।
 तो आप सोच रहे होगे कि इसका मतलब मै ये कहना चाहती हु कि आप ही अपना नम्बर खुद देते है । तो आपका यह सोचना गलत नही है आप ही अपना नम्बर हैकर को देते है बल्कि नम्बर ही नही और भी बहुत कुछ् आप दे देते हो । हा ये बात अलग है कि आप यह सब अन्जाने मे करते है । आप सोच रहे होगें कैसे ? चलिये आपको डिटेल मे समझाता हु ।


जब आप कोई गे…

कलम और तलवार , हिंदी निबंध

कलम और तलवार के साधारण अर्थ से सभी परिचित हिं, लेकिन वास्तव में ये दोनों दो महान शक्तियों के प्रतिक हैं. कलम बुद्धिबल की सूचक है और विचारक्रांति की समर्थक है जब कि तलवार बाहुबल को सूचित करती है और हिंसक क्रांति की प्रतिक है.

आज की दुनिया में तलवार या भौतिक बल का बहुत महत्त्व है. आज जिनके पास अधिक बल है, वे कमजोर लोगों पर अत्याचार कर रहे हैं. तोपों और बमों की आवाज से सारा संसार भयभीत हिया. इस परिस्थिति का मुकाबला करने के लिए तलवार अर्थात बाहुबल या भौतिक शक्ति की आवश्यकता पड़ती है. वास्तव में आज संस्कृति और स्वदेश की रक्षा के लिए भौतिक शक्ति का सहारा अनिवार्य हो गया है.

फिर भी तलवार से - भौतिक शक्ति से - संसार का सदा कल्याण नहीं हो सकता. तलवार ने ही हरे-भरे नगरों को सुनसान खंडहरों में बदल दिया है; रक्त की नदियाँ बहाई हैं. भय, द्वेष और कुशंका ने लोगों के दिलों में तूफान खड़ा कर दिया है. तलवार ने मासूम बच्चों और बेसहारा औरतों पर अनगिनत अत्याचार किए हैं, सभ्यता और संस्कृति की धाराओं को उलट दिया है. मनुष्य को पशु बना दिया है.

दुनिया में ज्ञान का जो अपार भंडार सुरक्षित रह सका है, वह कलम के चमत्का…