Skip to main content

Posts

Showing posts from January, 2017

मुझे कैसे पता चलेगा कि मैं pregnant हूँ या नहीं ? How Do I Know That I Am Pregnant or NOT?

मुझे कैसे पता चलेगा कि मैं गर्भवती हूँ या नहीं ? How Do I Know That I Am Pregnant or NOT?
आप pregnant हैं या नहीं इसका पता body में होने वाले changes या pregnancy kit के जरिए लगाया जा सकता है . आज हम आपको बताएँगे कि pregnancy के लक्षण (symptom) क्या होते हैं और pregnancy test कैसे करते हैं . ताकि आप पता लगा सकेंगी कि ' मैं pregnant हूँ या नहीं ?

गर्भधारण (pregnancies) करने के बाद महिला में जो hormonal changes होते हैं उसका असर शरीर के बाहरी अंगों पर भी दिखाई देते हैं . जिससे हम अंदाजा लगा सकते हैं कि महिला pregnant है या नहीं .

गर्भधारण करने वाली महिलाओं के शरीर में बहुत से hormone changes होते हैं जिनके कारण breast कोमल हो जाते हैं . Breast में झनझनाहट महसूस होती है . Breast में भारीपन महसूस होता है . Breast में दर्द होता है . Nipple dark हो जाते हैं . Nipple बड़े हो जाते हैं .
गर्भधारण के पश्चात महिलाओं को कपड़े बदलने में परेशानी आती है क्योंकि गर्भधारण करने पे पश्चात nipple में दर्द होता है , जिसके कारण कपड़े बदलना असुविधाजनक लगता है .
गर्भधारण करने के पश्चात breast में दर्द कई बार बहु…

कैसे पता करे कि आप pregnant है या नहीं ? Early symptoms of pregnancy, in Hindi

[caption id="attachment_5376" align="aligncenter" width="620"]कैसे पता करे कि आप pregnant है या नहीं ? Early symptoms of pregnancy in hindi[/caption]
अगर आप पहली बार माँ बनने जा रही हैं तो pregnancy आपके लिए एक नया एहसास लेकर आता है . Body के कुछ संकेतों से आप यह पता लगा सकती हैं कि आप pregnant है या नहीं . Body में हो रहे बदलाव से आपकी pregnancy का अंदाज लगाया जा सकता है . आइये जानते हैं वो क्या संकेत और बदलाव हैं जिनके द्वारा आप यह जान पाएंगी कि आप pregnant हैं या नहीं -


अगर आपको छोटे-छोटे काम करते हुए भी थकावट महसूस हो रही हो या किसी काम में मन न लगता हो तो ये संकेत भी आपके pregnant होने के हो सकते हैं .


अगर आप पहली बार माँ बनने जा रही हैं तो सबसे पहले पहले बदलाव आपके breast में दिखेगा . Breast ज्यादा पीड़ादायक (sore) और tender हो जाएंगे , nipples का size बढ़ जाएगा .


बार-बार bathroom जाने से आप परेशां हैं तो यह दर्शाता है कि शायद आप pregnant हो सकती हैं .


शुरुवाती लक्षणों में से एक है आपके mood का स्थिर ना होना , अत्यधिक भावनात्मक हो जाना , यदि ऐसा है तो यह स…

कल पढूंगा , पर ये कल कभी नहीं आता

कल पढूंगा , पर ये कल कभी नहीं आता, kaise padhai ke liye khud ko motivate kare, khud ko kaise study ke liye inspire kare, smart study tricks in Hindi

काल पढूंगा , हर क्षात्र यानि student यही सोचता है जब exam आने वाले होते हैं . जैसे school में notice कर दिया कि एक महीने बाद exam होनी है . तो student सोचता है कि अभी तो बहुत time है कल से सुरु करूँगा और कल आने पर सोचता है कि आज दोपहर से सुरु करूँगा और दोपहर आने पर वो सोचता है कि आज रात से सुरु करूँगा , रात को आराम से study करूँगा . फिर रात को सोचता है कि आज cartoon देख लेता हूँ , match देख लेता हूँ , movie देख लेता हूँ फिर उसके बाद आराम से पढूंगा .

फिर वो सोचता है - ' अरे यार आज तो बहुत ही अच्ची movie आई है , पहले movie देख लेता हूँ फिर आराम से पढूंगा . फिर वो सोचता है कि आज तो मैं थक गया , सुबह का alarm लगा लेता हूँ और सुबह जल्दी उठ जाऊंगा और पक्का पढाई करूँगा . और सुबह होने पर वो alarm घड़ी को बंद कर देता है और सोचता है आज अच्छी नीदं आ रही है , आज सो जाता हूँ , school के आने के बाद आराम से पढूंगा और school के आने के बाद सोचता है कि पह…

10 हिंदी में बहुत ही रोमांटिक लाइन्स अपनी प्रेमिका / पत्नी के लिए

10 हिंदी में बहुत ही रोमांटिक लाइन्स अपनी प्रेमिका / पत्नी के लिए1. अगर मैं मर गया और जन्नत में पहुँच गया , और भगवान आके मुझ से पूछे - ' तुझे क्या बनके धरती में दुबारा भेजू . ' . मैं भगवान से हर बार कहूँगा - ' एक आंशु , ताकी मैं तुम्हारी नैनों में पैदा हूँ , तुम्हारी गलों से खेलूं और तुम्हारी होठों पे खत्म हो जाऊं .

2. मैं एक हाथ से सारा जहाँ जित सकता हूँ मेरी जानेमन , जब तक मेरा हाथ तुम थम रही हो .

3. जब कोई रात तुम बहार हो फिर तुम आकाश के सारे तारों को देखना , हर एक तारा तुमसे प्यार करने की वजह है .

4. मैंने एक बूंद आंशु महासागर में गिरा दी है , जिस पल वो तुम्हे मिल जाए , सायद उस दिन मेरा प्यार खत्म हो जाएगा .

5. मुझे तुम्हारी बहुत याद आती है , जब तुम मेरे पास नहीं होती हो . जब तुम मेरे पास नहीं होती हो , मैं सिर्फ तुम्हारे बारे में सोचता हूँ . जब मैं तुम्हारे बारे में सोचता हूँ , मैं सिर्फ तुम्हारे साथ रहना चाहता हूँ . और जब मैं तुम्हारे साथ रहता हूँ , तो ऐसा लगता है कि मेरे सारे सपने पुरे हो गए .





6. हाँ , मैं भगवान में विश्वाश करता हूँ , क्योंकि तुम्हे पाना खुद में एक चमत्क…

क्यों मानते हैं हम गणतंत्र दिवस ? - Why We Celebrate Republic Day ? in Hindi

Hello दोस्तों , आज गणतंत्र दिवस ( जिसे हम republic day के नाम से भी जानते हैं ) के शुभ अवसर पे मैं रवि साव आप सभी को हार्दिक अभिनन्दन देना चाहता हूँ .. 67 से हम Republic day मना रहें हैं पर क्या आप ये जानते हैं कि हम Republic day क्यों मानते हैं ? सायद आपको पता होगा पर कई ऐसे भी है जिनको पता नहीं ... मैंने YouTube पे एक video देखा था जिसमे एक survey के दौरान कुछ नागरिकों जीमने पुलिस अधिकारी , politicians , सेना के जवान सामिल थे .. उनसे ये पूछा गया था कि हम ये Republic day क्यों मानते हैं ? ... you can't believe कि उन लोगों को ये नहीं पता कि हम गणतंत्र दिवस क्यों मानते हैं ...

हम भारत में रह कर भी इसके बारे में कम ही जानते है , जो की एक कड़वा सच है . तो आइए दोस्तों आज के इस पवन अवसर पर हम गणतंत्र दिवस के बारे में जाने .

26 January को हर साल एक एतिहासिक तिथि के तौर पर याद किया जाता है . 26 January 1950 को भारत का संविधान स्थापित किया गया था . क्या आप जानते हैं कि इस अवसर को कैसे याद किया जाता है ?

जी हाँ गणतंत्र दिवस जो हर साल 26 January को बड़े ही धूम-धाम से मनाया जाता है . 1950 में भार…

Wordpress Vs Blogger which one is better ? In Hindi

[caption id="" align="aligncenter" width="574"] Wordpress Vs Blogger which one is better ? In Hindi[/caption]


Acchibaat.com ke readers aaj hum aapko batane ja rahe hai ki wordpress or bolgger me behtar kon hai .. Halaki ABC ek blog hai or jo blogger.com ke through live hai matlab ABC ek google blog hai . Par me ye janta hu ki sirf ek accha blog having huge number of visitors kafi nahi hota . ABC ko live huye 11 mahine beet chuke hai or aaj more then 12000 page views hai iske . Main kuch hi mahino me ABC ko wordpress me migrate karne wala hu .. Reson bahot sare hai .. Aaj hum apne is aricle me batayenge ki wordpress or blogger me kya difference hai ?
Jab hum koi blog banane ki sochte hai to hamare dimag me blogger , wordpress or tumbler aate hai .
Kuch log blogger me apna blog banana pasand karte hai kyu ki technicaly ye easy hai or kuch wordpress me kyu ki wo apne apne features ko badhana chahte hai .
Blogger.com ko ues karna bilkul free hai or startng ke liy…

महात्मा गाँधी से जुड़े कुछ रोचक तथ्य - Some interesting facts related to Mahatma Gandhi In Hindi

महात्मा गाँधी से जुड़े कुछ रोचक तथ्य - Some interesting facts related to Mahatma Gandhi In Hindi

2 October 1869 में गाँधी जी का जन्म हुआ था . सत्य और अहिंसा के पुजारी महात्मा गाँधी का नाम इतिहास के पन्नो में सदा के लिए अमर है . गाँधी जी सिर्फ देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी काफी famous थे . आज मैं आपको बताऊंगा महात्मा गाँधी से जुड़े कुछ रोचक तथ्य .

Mahatma Gandhi को महात्मा की उपाधि Dr. Rabindra Nath Tagor ने दी थी और Rabindra Nath Tagor को गुरु की उपाधि महात्मा गाँधी ने दी थी .
1930 में उन्हें America के times magazine में Man Of The Year का award भी दिया गया था .
एक बार गाँधी जी को ticket होने के बावजूद भी , ticket collector ने और एक अंग्रेज ने गाँधी जी को काला कहकर train से उतार दिया था . ये उनके और अंग्रेज के साथ पहला और कड़वा अनुभव था .
Mahatma Gandhi को राष्ट्र पिता (father of nation) की उपाधि Subhash Chandra Bosh में दी थी .
Mahatma Gandhi जी का पूरा नाम Mohan Das Karanchand Gandhi था उन्हें अपनी photo खिचवाना बिलकुल भी पसंद नहीं था . लेकिन आजादी की लड़ाई में वे अकेले ऐसे person थे …

मृत्यु का रहस्य, मरने के समय क्या होता है ? मौत क्यों आती है ?- The mystery of death In Hindi

मृत्यु का रहस्य, मरने के समय क्या होता है ? मौत क्यों आती है ? - The mystery of death In Hindi

मृत्यु के रहस्य और उसके विज्ञान के बारे में आप लोगों को बताने जा रहा हूँ . आदि काल से ही मनुष्य मृत्यु के के बारे में जानने का प्रयास करता रहा है . आज तक विज्ञानं भी उसकी सभी जिज्ञासाओं का हल नहीं दे पाया है . विज्ञानं निरंतर मृत्यु से जुड़े खोज में लगा हुआ है . आज में मृत्यु से जुड़े कुछ रहस्य आपको बताने जा रहा हूँ .
विघटन का प्रारम्भ
30 साल तक healthy मनुष्य को मृत्यु का आभास तक नहीं होता है लेकिन 30 साल से बाद हर 10 में हड्डियों की density 1% कम होने लगती है . जिससे 35 साल पर करते-करते शरीर hiccups लेने लगता है और हमें शारीरक विघटन का पता चलने लगता है . हमे ये मालूम हो जाता है कि हमारे body में धीरे-धीरे हमारी जो शक्ति जो है घट रही है .
घटती मांस-पेसियां
मांस-पेशियों के घटने की शुरूवात 30 साल से हो जाती है . 80 साल होते-होते body की 40%  मांस-पेसियां समाप्त हो जाती हैं . इसके बाद मांस-पेशियों की शक्तिया क्षीण पड़ने लगती है और उनकी लचक भी जाती रहती है .
नई कोशिकाएं नहीं बनती है
बचपन से जवानी तक कोशि…

सर्दियों में त्वचा का रखें ख्याल - skin care in winter in Hindi

सर्दियों में त्वचा का रखें ख्याल - skin care in winter in Hindi, thand ke mousam me skin ki dekhbhal kaise kare ?

शरीर के स्वास्थ्य की ही नहीं , बल्कि सौन्दर्य के भी रक्षा करना जरुरी होता है . सर्दियों के मौसम में skin विशेष रूप से रुखी , कड़ी , सुखी और कांतिहीन हो जाती है . जो लोग अपनी त्वचा की सार-संभाल natural तरीके से नहीं करते हैं , उनकी skin पर ठंड शुष्क हवाओं की मार सबसे अधिक पड़ती है . Natural ढंग से सौन्दर्य का रखरखाव और रक्षण करना सस्ता भी पड़ता है और निरापद भी रहता है .
सर्दियों में उन अंगों को तो अवश्य ही देखभाल करनी चाहिए जो कपड़ो से बहार होते हैं . जैसे चेहरा , हाथ , पैर आदि .
Skin पर कैसे लाए निखार ?

10 ग्राम चिरौंजी कच्चे दूध में भिंगोकर महीन पीस लें और इसका शाम को चेहरे पर लेप करें . जब यह लेप सुख जाए तब मल कर छुड़ा लें और चेहरा हल्के गुनगुने या ताजा पानी से धो डालें .
चार चम्मच कच्चे दूध में एक चम्मच पिसा नमक मिलकर सोने से पहले चेहरे पर मलें और सुबह उठकर चेहरा पानी से धो दें .
पीसी हुई मसूर की दाल में थोड़ी सी हल्दी और जैतून का तेल मिला लें . इस मिश्रण का उबटन चेहरे और शरीर पर ल…

जिवन बदल देने वालि 11 बाते - 11 Life-changing things in Hindi

जिवन बदल देने वालि 11 बाते - 11 Life-changing things in Hindi
1. अभी तुम्हारे ऊपर बहुत कम जिम्मेदारियां हैं इसलिए दुनिया घुमो .

2. मुश्किन जगहों की यात्रा करो . खोजने किये यात्रा करो . उन जगहों की यात्रा करो जो तुम्हे यह सोचने के लिए challenge करे कि तुम क्या बनना चाहते हो .

3. कुछ बनाओ . दूसरों के life पर काम करने या दूसरों की meetings attend करने में अपना time जाया मत करो .

4. पढ़ो . सिर्फ उन्ही चीजों के बारे में नहीं पढ़ो जिन्हें तुम जानते हो . लोगों के बारे में पढ़ो . लोगो को पढ़ो .

5. Meetings ऐसी चीज है जहाँ विचार नष्ट हो जाते हैं . अगर तुम किसी corporate job में हो और तुम्हे यह लगता है कि तुम इसे छोड़ सकते हो तो ऐसा ही करो . छोड़ दो .

6. TV देखना बंद करो . मत देखो . ये तुम्हे किसी मायने में बेहतर नहीं बना रहा है .

इस article को पूरा पढ़ने के लिये Next Page पर जाये.


जिवन बदल देने वालि 11 बाते - 11 Life-changing things in Hindi

7. लोगों पर तब तक यकीन करो जब तक वे तुम्हे उनपर यकीन न करने का कारण दे दें . लेकिन तुम भले मत बने रहना . कुछ तुम्हारी लेने के लिए हमेशा तैयार हैं .

8. कुछ लोग तुम्हारी lif…

आधी धुप , आधी छावं - Akbar-Birbal Story In Hindi

[caption id="" align="aligncenter" width="443"]आधी धुप , आधी छावं - Akbar-Birbal Story In Hindi[/caption]


एक दिन बादशाह अकबर ने खफा होकर बीरबल को नगर से बहार निकल जाने का आदेश दे दिया . मगर बीरबल तो हर हाल में खुश रहने वाले व्यक्ति थे . वह यह भी जानते थे कि बादशाह सलामत के यह गुस्सा थोड़े ही समय का है , शीघ्र ही उनकी नाराजगी दूर हो जाएगी . वे नगर से बाहर एक गांव में जा बसे .

अज्ञातवास करते-करते महीनो गुजर गए . न बादशाह ने उन्हें बुलाया न ही वह आए .
समय-समय पर बादशाह बीरबल को याद करके चिंता करते , पर बीरबल का कोई अता-पता न मालूम होने से वह लाचार थे .
जब किसी प्रकार बीरबल का पता नहीं चला तो बादशाह ने उन्हें ढूंढने की तरकीब निकाली .
उन्होंने राज्य के चप्पे-चप्पे पर ढिंढोरा पिटवा दिया कि जो शख्स आधी धुप , आधी छावं में हमारे पास आएगा , उसे एक हजार रूपए इनाम में दिए जाएंगे .

बहुत से लोग ने इनाम पाने की कोशिश की , पर किसी को आधी धुप , आधी छाया में होकर आने की युक्ति नहीं मिली .
यह बात फैलते-फैलते बीरबल के कानो तक भी पहुंची . वह अपने पड़ोस के एक गरीब बढई को बुलाकर बोले , …